ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

04 जुलाई, 2009

डयूटी से अनुपस्थित छह शिक्षकों व कर्मी के वेतन पर रोक

कुलपति डा. प्रेमा झा ने शुक्रवार को स्थानीय मदन अहिल्या कालेज का औचक निरीक्षण किया। उनके औचक निरीक्षण से यहां खलबली मच गई। निरीक्षण के दौरान कुलपति ने महाविद्यालय की प्रशासिनक व पठन- पाठन की व्यवस्था में कई खामियों को पकड़ा। उन्होंने क्लास रूम, प्रयोगशाला, शिक्षक कक्ष आदि का निरीक्षण किया। इस दौरान शिक्षकों की लेट लतीफी व बिना आवेदन के ड्यूटी से फरार रहने पर उन्होंने कड़ा रूख अख्तियार करते हुए प्राचार्या डा. मनीषा लाहेड़ी को तत्काल वैसे शिक्षकों व कर्मचारियों के वेतन पर रोक लगाने का निर्देश दिया। कालेज सूत्रों के अनुसार कुलपति ने छह शिक्षकों व कई शिक्षकेत्तर कर्मचारी को ड्यूटी से गैरहाजिर पाकर उनके वेतन पर पांबदी लगाने के लिए कहा है। उधर पहली बार कालेज में उनके औचक निरीक्षण से शिक्षकों व कर्मचारियों में अफरा- तफरी की स्थिति मच गई। कुलपति को इस कालेज से लगातार शिकायत मिल रही थी कि वहां बिना आवेदन के ही कई शिक्षक कालेज से गायब रहते हैं। उन्होंने महाविद्यालय प्रशासन की लचर व्यवस्था पर गहरी नाराजगी जताई। कुलपति डा. झा ने बताया कि यह बड़े दुख की बात है कि इतना पैसा पाने के बाद भी कालेज के कई शिक्षक ड्यूटी में लापरवाही बरत रहे हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षकों को समय पर कालेज आकर पठन- पाठन में रूचि लेनी होगी अन्यथा उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। कुलपति ने कालेज के शिक्षकों को अपनी आदत में सुधार लाने की नसीहत देते हुए महाविद्यालय में पठन- पाठन का बेहतर माहौल तैयार करने का भी निर्देश उपस्थित शिक्षकों को दिया। वे करीब एक घंटे तक कालेज में रहीं। कुलपति ने उपस्थिति पंजी का फोटो स्टेट कराकर उसे साथ लेती गई। कुलपति ने बिना आवेदन के अनुपस्थित रहने व विलंब से कालेज आने वाले शिक्षकों व कर्मचारियों के खिलाफ रिपोर्ट करने में ढिलाई बरतने पर उन्होंने प्राचार्या को भी आड़े हाथों लिया।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.