ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

20 अगस्त, 2009

धान व अरहर का समर्थन मूल्य बढ़ा

सूखे की मार से परेशान किसानों के चेहरे पर मुस्कान फैलाने की एक कोशिश केंद्र सरकार की तरफ से हुई है। सरकार ने सभी महत्वपूर्ण खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी)में खासी वृद्धि करने का फैसला किया है। आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीईए)की गुरुवार को हुई बैठक में धान के एमएसपी में 100 रुपये प्रति क्विंटल, अरहर में 300 रुपये व मूंग के एमएसपी में क्रमश: 240 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। तिल के एमएसपी में 100 रुपये की वृद्धि की गई है।
सरकार को उम्मीद है कि मानसून में देरी के बावजूद किसान धान और तिलहन की खेती की तरफ ज्यादा आकर्षित होंगे। एमएसपी बढ़ने से किसान बिरादरी को तो राहत मिलेगी ही, साथ ही अनाज संकट का खतरा भी कुछ हद तक कम होने की उम्मीद है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में सीसीईए की बैठक में हुए इस फैसले के बारे में गृह मंत्री पी। चिदंबरम ने संवाददाताओं को जानकारी दी। चिदंबरम ने बताया कि सामान्य धान का एमएसपी 850 रुपये से 100 रुपये बढ़ाकर वर्ष 2009-10 के लिए 950 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है। ग्रेड-ए धान का एमएसपी अब 880 रुपये के बजाय 980 रुपये होगा। इस तरह इसमें भी 100 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। दलहन में अरहर का एमएसपी 300 रुपये बढ़ाकर 2300 रुपये(15 फीसदी वृद्धि) और मूंग का 240 रुपये बढ़ाकर 2760 रुपये (9।52 फीसदी वृद्धि) किया गया है। तिलहन में तिल का एमएसपी 100 रुपये बढ़ाने के बाद अब 2850 रुपये (3.64 फीसदी वृद्धि) होगा। जबकि बाजरा, मकई, रागी, उड़द, सोयाबीन, नारियल, सूरजमुखी, कपास के एमएसपी को चालू वित्त वर्ष 2009-10 के लिए यथावत रखा गया है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.