ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

29 अगस्त, 2009

परिवार को समर्पित है यह अर्जुन पुरस्कार-इग्नेस

भारतीय हॉकी टीम के स्टार खिलाड़ी इग्नेस टिर्की ने अर्जुन पुरस्कार मिलने पर खुशी जताते हुए इसे अपने परिवार को समर्पित किया।
टिर्की ने कहा कि यह पुरस्कार उनकी बरसों की मेहनत का फल है। उन्होंने कहा कि यहाँ तक पहुँचने के लिए मुझे काफी पसीना बहाना पड़ा। मैं देश के लिए लंबे समय से खेल रहा हूँ। मैंने कई उतार-चढ़ाव देखे, लेकिन अंत में ये सम्मान मिलने पर मैं उन सब चीजों को भूलना चाहता हूँ।
उन्होंने कहा कि एक समय तो ऐसा भी आया जब मै अंतरराष्ट्रीय हॉकी को अलविदा कहने का मन बना चुका था। लेकिन मेरे परिवार वालों ने मुझे आगे खेलते रहने की प्रेरणा दी और मेरी हिम्मत बढ़ाई।
टिर्की ने कहा कि मैं उड़ीसा के एक पिछड़े इलाके से आता हूँ, जहाँ जीवन की मूलभूत सुविधाएँ भी नहीं होती है, लेकिन तमाम परेशानियों के बावजूद मुझे राष्ट्रीय टीम में खेलने का मौका मिला, लेकिन हाल के दिनों में अब छोटे जगहों के भी खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर राष्ट्रीय टीम में खेल रहे हैं। उन्होंने कहा कि हर खिलाडी का अर्जुन पुरस्कार जीतने का सपना होता है। मेरा भी था जो आज पूरा हो गया।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.