ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

27 अगस्त, 2009

भारत में गंभीर नहीं स्वाइन फ्लू: आजाद

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि स्वाइन फ्लू से डरने की नहीं बल्कि सावधानी बरतने की जरूरत है। भारत में अभी स्थिति उतनी गंभीर नही है, जितनी दूसरे देशों में है।

यहां गुरुवार को एक कार्यक्रम में भाग लेने आए आजाद ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि इनफ्लूएंजा एच1एन1 में स्वाइन फ्लू, बर्ड फ्लू और ह्यूंमन फ्लू तीनों तरह के वायरसों के अंश है। उन्होंने कहा कि स्वाइन फ्लू का संक्रमण दुनिया के 175 देशों में है, जो चिंता का विषय है। लेकिन खुशकिस्मती से हमारे देश में उस स्तर तक नहीं फैली है। बावजूद इसके स्वास्थ्य मंत्रालय ने तमाम इंतजाम कर रखे हैं। एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग की जा रही है। स्वाइन फ्लू के टेस्ट के लिए लैब स्थापित की जा रही हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि अब तक एच1एन1 वायरस के जो टेस्ट लेबोरेट्री कम होने की वजह से जल्द नहीं हो पा रहे थे वह अब होने लगे हैं। हर राज्य में बीमारी को लेकर आइसोलेशन वार्ड स्थापित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि सरकारी इंतजामों के बावजूद सबसे महत्वपूर्ण चीज जो वह चाहते हैं कि लोग सहयोग करें। जिनमें सामान्य फ्लू या स्वाइन फ्लू के लक्षण दिखाई देते हैं वह तुरंत डाक्टर से चेकअप कराएं। चूंकि यह छूत की बीमारी है, लिहाजा खुद ही एहतियात बरतें और संक्रमित लोगों के संपर्क में न आएं।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.