ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

19 अगस्त, 2009

इंसपेक्टर विनयपाल को 10 साल कैद की सजा

बिहार में 9 साल पहले हुए फर्जी मुठभेड़ मामले में निचली अदालत ने एक इंसपेक्टर को 10 साल कैद की सजा सुनाई है. अदालत ने इंसपेक्टर विनयपाल को फर्जी मुठभेड़ को अंजाम देने का दोषी पाया. मुठभेड़ की वारदात 16 अगस्त , 2000 को हुई थी, जिसमें आनंद पांडे की मौत हो गई थी.

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.