ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

19 जुलाई, 2009

हमलों के साजिशकर्ताओं को करनी का फल मिलेगा


अमेरिका की विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने रविवार को कहा कि उनका देश पाकिस्तान की तरफ से आतंकवाद के खिलाफ की जा रही कार्रवाई पर नजर रख रहा है। उन्होंने उम्मीद जताई कि मुंबई हमलों के साजिशकर्ताओं को उनकी करनी का फल मिलेगा।
हिलेरी ने कहा कि आतंकवाद सभी के लिए खतरा है, इनमें वे लोग भी शामिल हैं जो ऐसे तत्वों को पनाह देते हैं। उनके मुताबिक हर देश को इस समस्या को पराजित करने के लिहाज से खड़ा हो जाना चाहिए।
क्लिंटन ने कहा कि हम निश्चित रूप से इस पर नजर रख रहे हैं और उम्मीद कर रहे हैं कि न्याय होगा और जिन्होंने मुंबई में भयावह हमले किए, उन्हें उनके किए की सजा मिलेगी। हिलेरी प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह और विदेश मंत्री एसएम कृष्णा से सोमवार को मुलाकात करेंगी।
अमेरिकी विदेश मंत्री के मुताबिक उन्हें लगता है कि पाकिस्तान में अलकायदा और तालिबान सहित अन्य संगठनों का सिंडिकेट अमेरिका के अलावा भारत को भी नुकसान पहुँचा रहा है।
पाँच दिवसीय भारत यात्रा पर आईं हिलेरी ने कहा कि मैंने पाकिस्तानी लोगों को भी बिलकुल सीधे संदेश भेजे हैं कि आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष पाकिस्तान के हित में है। उन्होंने कहा कि अमेरिका ने न केवल पाकिस्तानी सरकार की तरफ से बल्कि पाकिस्तान के लोगों की ओर से भी एक प्रतिबद्धता देखी है और वे मानती हैं कि किसी देश के भीतर आतंकवाद उस देश के लिए खतरा है।
उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष के मुद्दे पर अमेरिका सरकार, सेना, नागरिक और खुफिया सभी स्तरों पर पाकिस्तान से बातचीत कर रहा है। हिलेरी ने कहा कि हम इस पर निगरानी रख रहे हैं और हमें उम्मीद है कि वे आतंकवाद के सिंडीकेट के खिलाफ प्रगति करेंगे, जिसमें अलकायदा, तालिबान और कई अन्य आतंकी संगठन इस तरह से जुड़े हुए हैं कि गहराई से अमेरिका को नुकसान पहुँचा रहे हैं और मुझे पता है भारत को भी नुकसान पहुँचा रहे हैं।
हिलेरी का कहना था कि आतंकवाद से कोई भी कहीं भी सुरक्षित नहीं है। उन्होंने कहा कि इस संकट के सामने खड़े होने की प्रत्येक देश की जिम्मेदारी है। यह किसी एक देश तक सीमित नहीं है।
उन्होंने कहा कि हमें प्रत्येक राष्ट्र से यही अपेक्षा है क्योंकि हम सोचते हैं कि पूरी दुनिया में आतंकवादियों का नेटवर्क सभी लोगों के लिए खतरा है, जैसा हमने जकार्ता में देखा। विशेष तौर पर यह अमेरिका, भारत और इंडोनेशिया सरीखे लोकतंत्रों के लिए खतरा है, जो इस बात के लिए आतंकवादियों के निशाने पर रहते हैं कि हम संप्रभु और स्थिर राष्ट्रों में स्वतंत्रता पूर्वक जीवन जी रहे हैं।
हिलेरी ने कहा कि अमेरिका यह सुनिश्चित करने के लिए प्रयासरत है कि हर देश आतंकवाद को सभी के लिए सभी जगह खतरा माने और आतंकवादियों को कोई सुरक्षित पनाह नहीं मिले।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.