ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

26 अगस्त, 2009

सुप्रीमकोर्ट के जज करेंगे संपत्तिकी घोषणा


जजों की संपत्तिघोषित करने के लिए कानून आए या ना आए लेकिन सुप्रीमकोर्ट के जजों ने अपनी संपत्तिघोषित करने का निर्णय ले लिया है। जज अपनी संपत्तिकी घोषणा सुप्रीमकोर्ट की वेबसाइट पर करेंगे।
सूत्र बताते हैं कि बुधवार शाम मुख्य न्यायाधीश केजी बालाकृष्णन की अध्यक्षता में सभी जजों की एक बैठक हुई, जिसमें संपत्तिसार्वजनिक किए जाने पर विचार किया गया। यह बैठक करीब दो घंटे चली और सर्व सम्मति से जजों ने संपत्तिघोषित किए जाने का निर्णय लिया। संपत्तिकी घोषणा सुप्रीमकोर्ट वेबसाइट पर की जाएगी।
जजों के संपत्तिघोषित किए जाने को लेकर लंबे समय से बहस चल रही है। यहां तक कि सरकार ने कानून का मसौदा भी तैयार कर लिया और संसद में विधेयक भी पेश करने की कोशिश की लेकिन जजों को कुछ ज्यादा ही संरक्षण देने के कारण विधेयक का इतना विरोध हुआ कि सरकार ने इसे वापस ले लिया। विरोध का मुख्य कारण यह था कि जज जो घोषणा करेंगे उसे सार्वजनिक नहीं किया जाएगा। पूर्व में मुख्य न्यायाधीश ने भी संपत्तिघोषणा के मुददे पर टिप्पणीं करते हुए कहा था कि अभी कोई कानून नहीं है लेकिन जो जज स्वेच्छा से संपत्तिघोषित करना चाहता है वह कर सकता है। दो दिन पहले मुख्य न्यायाधीश ने पत्रकारों के सवाल पर कहा था कि संपत्तिघोषणा को लेकर सुप्रीमकोर्ट के जजों में सहमति बनाई जा रही है। इस बीच हाईकोर्ट के कुछ न्यायाधीशों ने स्वेच्छा से अपनी संपत्तिघोषित कर दी थी। बुधवार को सुप्रीमकोर्ट जजों ने भी आम सहमति से संपत्तिसार्वजनिक करने का प्रस्ताव पारित कर दिया।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.