ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

27 अगस्त, 2009

बच्ची बनी ब्लू फिल्म रैकेट की शिकार

पटना में 11 साल की एक मासूम बच्ची को ब्लू फिल्म रैकेट ने अपना शिकार बना लिया. हद तो तब हो गई, जब बच्ची के घर वालों ने भी आरोपियों के खिलाफ़ एक्शन लेने की बजाय मासूम को ही जंज़ीरों में जकड़ दिया.
ग्यारह साल की मुन्नी ब्लू फिल्म बनाने वाले रैकेट के जाल में फंसी थी और उसे अपने ही मां-बाप ने अब उसे जंज़ीरों में जकड़ रखा है. ये दिल दहला देने वाली दास्तां पटना के करीब खगौल की है. गरीब मां-बाप ने मुन्नी को एक मछुआरे के यहां काम पर भेजा था. मछुआरे ने उसे शमशाद नाम के एक फोटोग्राफर के हवाले कर दिया और फिर शुरू हो गया नासमझ मासूम मुन्नी के साथ घिनौना खेल.
मुन्नी के मां-बाप दोनों मजदूरी करते हैं. मुन्नी के घर से गायब होने की जब उन्हें वजह मालूम हुई, तो आरोपी फोटोग्राफर के खिलाफ़ कार्रवाई करने की बजाय उन्होंने मुन्नी को ही घर में कैद कर दिया.
बिहार के डीजीपी ने दिए मामले की जांच के आदेश
ब्लू फिल्म बनाने वाले रैकेट का शिकार बच्ची की आपबीती उजागर हुई, तो बिहार के डीजीपी मामले की जांच के आदेश दिए. इस घटना का खुलासा होने के बाद से ही आरोपी फोटोग्राफर और उसके साथी फ़रार हैं.

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.