ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

10 अगस्त, 2009

बिहार के 26 जिले सूखाग्रस्त घोषित

मुख्यमंत्री नीतीश सरकार ने केंद्र से माँगी मदद
मानसून के दौरान कम बारिश को देखते हुए बिहार सरकार ने प्रदेश के 38 जिलों में 26 जिलों को सोमवार कोसूखाग्रस्त घोषित करते हुए इस संकट से निपटने के लिए प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहनसिंह से बिहार को विशेषआर्थिक पैकेज दिए जाने का अनुरोध किया है।
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में राज्य मंत्रिमंडल की आज हुई बैठक के बाद नीतीश ने कहाकि राज्य के विभिन्न जिलों में वर्षा की दयनीय स्थिति और खरीफ फसलों की स्थिति के संबंध मेंजिलाधिकारियों से प्राप्त रिपोर्ट का गहन अध्ययन कर राष्ट्रीय आपदा कानून के तहत प्रदेश सरकार ने राज्य केजिलों में से 26 जिलों को सूखाग्रस्त घोषित किए जाने का निर्णय लिया है।
नीतीश ने बताया कि फिलहाल राज्य के कुल 26 जिलों पटना, नालंदा, भोजपुर, बक्सर, रोहतास, कैमूर, गया, जहानाबाद, अरवल, नवादा, औरंगाबाद, मुंगेर, शेखपुरा, लखीसराय, जमुई, भागलपुर, बाँका, सारण, सिवानमुजफ्फरपुर सीतामढी बेगूसराय मधेपुरा किशनगंज कटिहार एवं वैशाली को सूखाग्रस्त (प्राकृतिकआपदाग्रस्त) घोषित करने का निर्णय लिया गया है।
उन्होंने बताया कि शेष जिलों में स्थिति की निरंतर समीक्षा की जाएगी और आवश्यकतानुसार अन्य जिलों कोसूखाग्रस्त घोषित करने के बारे में निर्णय लिया जाएगा।
नीतीश ने कहा कि इस वर्ष राज्य में मानसून के दौरान वर्षा काफी कम हुई है, जिसके कारण खरीफ फसलखासतौर से धान की बुआई लक्ष्य से बहुत कम हुई है। इसके फलस्वरूप उपज पर प्रतिकूल प्रभाव पड़नानिश्चित है।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.