ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

30 जुलाई, 2009

जाली नोट आपकी जेब में तो नहीं

6 एपी सीरीज़ के हज़ार रुपये के नोट. देखने में बिल्कुल असली, लेकिन है ये जाली नोट. 8 एसी सीरीज़ का हज़ार रुपये का ये नोट भी नकली है.
9 बीयू इस सीरीज़ का हज़ार वाला नोट भी जाली नोटों के धंधेबाज़ों की टकसाल में छपा है 9 बीयू सीरीज़ के हज़ार रुपये वाले नकली नोट भी बाज़ार में फैल चुके हैं. रिज़र्व बैंक जिन सीरीज़ के नए नोट छाप रहा है, अब नकली नोटों के सौदागर भी उन्हीं सीरीज़ के नोट बाज़ार में झोंक रहे हैं. इसलिए हो सकता है कि आपके पास एक ही सीरीज़ के, एक ही नंबर के दो नोट हों. अगर ऐसा है, तो जान लीजिए कि आपके पास एक नोट नकली है.
अगर आपके पास इनमें से किसी सीरीज़ का एक भी नोट है, तो वो भी नकली हो सकता है. असली सीरीज़ के ये जाली नोट कहीं से भी आपके पास आ सकते हैं. बाज़ार से, बैंक के काउंटर से या फिर बैंक के एटीएम से. क्योंकि मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जाली नोट चलाने वाला जो नया गिरोह पकड़ा है, वो अब तक 50 लाख रुपये के नकली नोट बाज़ार में खपा चुका है. इन जाली नोटों की खेप में हज़ार रुपये की चार सीरीज़ के नोट हैं और पांच सौ रुपये की नई सीरीज़ के जाली नोट भी.
6 एसी सीरीज़ वाला पांच सौ ये नोट जाली है और 9 सीजी सीरीज़ वाला पांच सौ रुपये का ये नोट भी. बेहद उम्दा क्वालिटी के कागज़ पर छपे ये नोट आपकी जेब से बरामद हुए, तो आप लुटने के साथ-साथ पिट भी सकते हैं क्योंकि तब आपको देना होगा जवाब कि जाली नोट आपकी जेब में कहां से आया लेकिन, आप जानेंगे कैसे कि कौन सी सीरीज़ का नोट नकली है.

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.