ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

30 जुलाई, 2009

राजधानी से भी तेज दौड़ेगी दूरंतो ट्रेन

जल्द शुरू की जाने वाली नॉन स्टाप दूरंतो ट्रेनों में अत्याधुनिक हाइब्रिड कोच लगाए जाएँगे। इन डिब्बों की सीटिंग क्षमता भी अधिक होगी। स्टेनलेस स्टील के बने इन कोचों का वजन भी हल्का होगा और इसमें यात्रा की गुणवत्ता में सुधार होगा। साथ ही इनकी रखरखाव की लागत भी कम होगी।
रेल मंत्रालय के सूत्र ने कहा कि इन हाइब्रिड कोचों में पर्यावरण अनुकूल शौचालय की सुविधा होगी।
रेल मंत्री ममता बनर्जी ने अपने बजट भाषण में ऐसी 12 ट्रेनें शुरू करने की घोषणा की थी। बाद में संसद में चर्चा का जवाब देते हुए ममता ने ऐसी ही दो और ट्रेनों की घोषणा की थी।
उन्होंने कहा था कि ऐसी कुछ ट्रेनों की शुरुआत कुछ महीनों में हो जाएगी। सूत्र ने कहा, ‘एक रैक नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पहुँच चुका है। दिल्ली से कुल 11 दूरंतो रेलगाड़ियाँ चलेंगी।’
उन्होंने कहा कि हाइब्रिड कोचों में सीटिंग क्षमता 12 प्रतिशत अधिक होगी। इसका बाहरी आवरण बहुत हद तक राजधानी से मिलता-जुलता होगा। चालू वित्त वर्ष के दौरान आरसीएफ कपूरथला 360 ऐसे हाइब्रिड कोचों का निर्माण करेगा।
रेल मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि दूरंतो ट्रेनों की रफ्तार राजधानी ट्रेनों से भी ज्यादा होगी। एक उदाहरण देते हुए उन्होंने बताया कि यदि दिल्ली-हावड़ा राजधानी एक्सप्रेस को अपनी यात्रा पूरी करने में 17 घंटे लगते हैं, तो दूरंतो से इतनी ही दूरी की यात्रा में एक घंटे का समय कम लगेगा।
इंजन और कर्मचारियों को बदलने के लिए इन ट्रेनों का तकनीकी ठहराव होगा। फिलहाल दूरंतो ट्रेनों की समय सारणी और किराए आदि के ढाँचे पर विचार किया जा रहा है।
ये ट्रेनें ज्यादातर उन रूटों पर चलेंगी जहाँ यात्रियों की संख्या अधिक होती है और राजधानी ट्रेनें भी चलती हैं।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.