ताजा समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

 

28 जुलाई, 2009

बीते जमाने की अदाकारा लीला नायडू नहीं रहीं

बीते जमाने की जानी-मानी अभिनेत्री लीला नायडू का मंगलवार को मुंबई में गुर्दा खराब हो जाने के कारण निधन हो गया। नायडू बहुत सालों से इनफ्लूएंजा से पीड़ित थीं।
नायडू ने हिन्दी सिनेमा में बलराज साहनी के साथ 1960 में आई ह्रिषिकेश मुखर्जी की फिल्म 'अनुराधा' से कदम रखा। नायडू जाने माने परमाणु वैज्ञानिक रमाईह नायडू की पुत्री थीं।
उन्होंने 1962 में आई फिल्म ‘उम्मेद’और सुनील दत्त के साथ फिल्म ‘यह रास्ते हैं प्यार के’ में काम किया। 1963 में वे जेम्स आईवोरी के निर्देशन में बनी मर्चेंट आईवोरी के बनैर तले बनी पहली फिल्म ‘द हाऊसहोल्डर’ में मुख्य किरदार में नजर आईं।
बाद में नायडू ने 1969 में उनकी फिल्म ‘द गुरू’ में मेहमान कलाकार की भूमिका निभाई।
नायडू ने 1954 में ‘फेमिना मिस इंडिया’ का ताज पहनीं और वोग पत्रिका ने उन्हें दुनिया की सबसे खूबसूरत महिला बताया।
नायडू ओबेरॉय होटल समूह के उत्तराधिकारी विक्की ओबेरॉय से शादी की जिसके साथ उनकी जुड़वां बेटियां हैं।
बाद में उन्होंने विक्की से तलाक ले लिया और फिर कवि डोम मारिस से शादी रचाई। अपने दूसरे पति मॉरिस के साथ नायडू ने हांग कांग में तकरीबन दस साल रहीं।

ध्यान दें

प्रकाशित समाचारों पर आप अपनी राय या टिपण्णी भी भेज सकते हैं , हर समाचार के नीचे टिपण्णी पर क्लिक कर के .

घूमता कैमरा

लोकप्रिय समाचार

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.